स्लीप डिसाॅडर्स इतनी बड़ी परेशानी क्यों मानी जाती है?

sleep disorderनई दिल्ली। हममें से अधिकांश लोगों ने जो कभी न कभी नींद आने में कठिनाई का सामना किया है। तनाव, घबराहट या अन्य किसी बाहरी कारण से ऐसा होना सामान्य और अस्थाई समस्या है जिसके लिये किसी बाहरी मदद की जरूरत नहीं होती। हालांकि, कभी-कभी नींद की समस्या लगातार बनी रहती है जिससे जीवन बाधित होने लगता है। यह स्लीप डिसाॅर्डर का संकेत हो सकता है। इसलिये, समय रहते इसका उपाय और देखभाल जरूरी है, क्योंकि नींद अच्छी सेहत का एक महत्वपूर्ण पहलू है!
स्लीप थेरेपिस्ट डाॅ प्रीति देवनानी से जब पूछा गया कि स्लीप डिसाॅडर्स इतनी बड़ी परेशानी क्यों मानी जाती है? तो उन्होंने कहा कि स्लीप डिसाॅडर्स केवल अनिद्रा ही पैदा नहीं करता। इससे आपकी ऊर्जा का स्तर, भावनात्मक संतुलन और स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। इससे आप सेहत से जुड़ी गंभीर परेशानियों जैसे कि ह्नदयरोग, मधुमेह और मोटापे के शिकार भी हो सकते हैं। स्लीप डिसाॅडर्स की गंभीर समस्या आपकी जीवन प्रत्याशा भी कम कर सकती है!
ओह! इस समस्या के होने का पता कैसे चलेगा? उस पर डाॅ देवनानी ने कहा कि आइए कुछ अच्छी बातों से शुरुआत करते हैं। अधिकांश स्लीप डिसाॅडर्स की पहचान आसानी से घर पर भी की जा सकती है। नींद की कमी के कारण किसी भी प्रकार का असर महसूस हो रहा हो तो सबसे पहले उसे पहचाने की कोशिश करें। उन्होंने बताया कि नींद की कमी के कारण सबसे सामान्य रूप से नजर आने वाले लक्षणों में शामिल हैं, दिन के समय चिड़चिड़ापन या तंद्रा महसूस करना। जगे रहने में कठिनाई होना। उदाहरण के लिये, स्थिर बैठने में, टेलीविजन के सामने, या फिर पढ़ने के दौरान थकान महसूस होना, या गाड़ी चलाते समय नींद आ जाना । लगातार लोगों का यह बोलना कि आप थके हुए नजर आ रहे हैं। धीमी प्रतिक्रिया करना। अपनी भावनाओं पर नियंत्रण नहीं रख पाना। हर दिन झपकी की जरूरत महसूस करना। किसी भी रूप में व्यापक लक्षण नहीं हैं और इसका यह अर्थ भी नहीं कि आपको कोई समस्या हो ही सकती है। फिर भी अगर आप इनमें से कुछ लक्षण लगातार महसूस कर रहे हैं तो विशेषज्ञ की सलाह जरूरी लेनी चाहिए।
डाॅ प्रीति देवनानी ने कहा कि यहां सबसे महत्वपूर्ण यह समझना है कि किसी भी उम्र का कोई पुरुष, स्त्री, या बच्चा स्लीप डिसाॅर्डर से प्रभावित हो सकता है। इसलिये, इस समस्या को शुरुआत में ही समाप्त करने के लिये यथासंभव जानकारी रखना जरूरी है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *