संवैधानिक तरीके से राम मंदिर बनाएंगे- अमित शाह

UP BJP Menifestoयूपी विधानसभा को जीतने के लिए अपना कमर कस चुकी बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में राम मंदिर का जिक्र किया है. फ्री लैपटॉप के साथ एक जीबी इंटरनेट फ्री, वाई फाई की सुविधा, तीन तलाक पर प्रदेश की महिलाओं की राय जैसे अहम मुद्दे बीजेपी की घोषणापत्र में है. बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में यूपी के विकास के 9 मुद्दों को शामिल किया गया है. इसमें महिला सुरक्षा से लेकर युवाओं को रोजगार और किसानों की सुविधा का खास ध्यान रखा गया है.

  • संवैधानिक दायरे में रहते हुए जल्द से जल्द राम मंदिर बनाएंगे.
  • 6 शहरों के लिए हेलिकॉप्टर सेवा की शुरूआत करेंगे. यूपी में 25 नए मेडिकल कॉलेज बनाएंगे.  महिला सुरक्षा के लिए टास्क फोर्स बनाएंगे. महिलाओं के लिए 100 फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाएंगे.
  • कानपुर और गोरखपुर में मेट्रो चलाएंगे. नोएडा और लखनऊ मेट्रो का विस्तार करेंगे.
  • पांच साल में हर घर में 24 घंटे बिजली पहुंचाएंगे. सभी घरों में एलपीजी कनेक्शन पहुंचाएंगे. गरीबों को तीन रूपये प्रति यूनिट की दर से बिजली का बिल देना होगा.
  • कॉलेज में फ्री WiFi मिलेगा. लड़कियों को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा मिलेगी.
  • मजदूरों को 2 लाख तक फ्री बीमा देंगे. हर गांव को तहसील सेंटर के साथ जोड़ा जाएगा.
  • हर युवा को रोजगार मिलेगा. युवाओं को बिना भेदभाव लैपटॉप दिया जाएगा. जानवरों के अवैध कत्लखाने बंद होंगे.
  • अपराधियों पर फौरन ही कार्रवाई की जाएगी. 45 दिन के अंदर अपराधी जेल में जाएंगे.
  • डेयरी विकास फंड का गठन होगा, गन्ना किसानों को तुरंत ही भुगतान किया जाएगा. किसानों से कर्ज पर ब्याज नहीं लिया जाएगा. कषि मजदूरों को दो लाख का बीमा दिया जाएगा.
  • यूपी को ढ़ाई साल में 2.5 लाख करोड़ रूपया दिया. अखिलेश यादव इसका हिसाब दें.
  • हमने परिवार और जाति की राजनीति नहीं की है, हमने सिद्धांतों की और विकास की राजनीति की है. यूपी में परिवारवाद का अंत होगा.
  • यूपी के विकास के बिना देश का विकास संभव नहीं है. बीजेपी के कार्यकर्ताओं को यूपी की जनता ने खुलकर आशीर्वाद दिया है.
  • इस बार यूपी में बीजेपी की सरकार बनेगी. यूपी में हमने 30 लाख लोगों से उनकी राय जानी है. पिछले 15 साल में यूपी बहुत पीछे चला गया है.
  • अमित शाह के साथ यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या और योगी आदित्यनाथ भी मौजूद हैं.

गौरतलब है कि बीजेपी ने अब तक 371 उम्मीदवारों की सूची जारी की है जिसमें से 80 दलित और करीब 130 विभिन्न पिछड़ी जाति के उम्मीदवार हैं. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने राज्य की 80 सीटों में 71 पर जीत दर्ज की थी. हालांकि विधानसभा चुनाव में सपा और कांग्रेस का गठबंधन हुआ है जबकि बसपा अकेले चुनाव लड़ रही है. यूपी की 403 सीटों विधासभा सीटों पर सात चरणों में चुनाव होना है, जिसकी शुरुआत 11 फरवरी को होगी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.