साझी दोस्‍ती को वैश्विक विस्‍तार देने के लिए ट्रंप-मोदी में बनी सहमति

Modi with Trumpभारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जून 2017 में अमेरिका यात्रा के बाद से भारत और अमेरिका के आपसी रिश्‍तों में जो बदलाव आ रहे हैं उसे एक बार फिर फिलीपिंस की राजधानी मनीला में सोमवार को महसूस किया गया।पीएम मोदी और राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की अगुवाई में दोनों देशों के आला अधिकारियों के साथ द्विपक्षीय बैठक हुई। इस बैठक में आपसी हितों, सुरक्षा और रक्षा सौदों पर तो बात हुई। इसमें सबसे अहम रहा कि दोनों पक्षों ने खुलेआम यह ऐलान किया कि उनके रिश्‍ते सिर्फ द्विपक्षीय हितों तक सीमित नहीं रहेंगे बल्कि इसका आयाम पूरे एशिया और संभवत एशिया के बाहर तक फैला होगा।

बैठक के दौरान मोदी ने कहा कि भारत और अमेरिका के रिश्‍ते बहुत तेजी से मजबूत हो रहे हैं। मैं महसूस करता हूं कि यह रिश्‍ता सिर्फ आपसी हितों के लिए ही नहीं है। हम एक साथ एशिया के भविष्‍य और समूची वैश्विक मानवता की भलाई के लिए काम कर रहे हैं। मोदी और ट्रंप की मुलाकात फिलीपींस में हुई है जहां एशिया के लिहाज से संभवत: सबसे बैठक (आसियान और ईस्‍ट एशिया समिट) आज होने वाली है। एक दिन पहले ही भारत, अमेरिका, जापान और आस्‍ट्रेलिया के विदेश मंत्रालयों के शीर्ष अधिकारियो की अगुवाई में एक अलग बैठक हुई है।

मोदी ने ट्रंप को इस बात के लिए धन्यवाद दिया है कि उन्होंने हाल के दिनों में भारत की काफी तारीफ की है। उन्होंने उम्मीद जताई कि दुनिया के अन्य देश व अमेरिका भारत से जो उम्मीद करते हैं उस पर वह पूरा होने की पूरी कोशिश करेगा। ट्रंप ने मोदी को अपना मित्र बताया और जून, 2017 में हुई पहली मुलाकात के बाद दोनों देशों के बीच रिश्तों में हुई प्रगति के लिए धन्यवाद दिया। यह मोदी और ट्रंप के बीच दूसरी आधिकारिक मुलाकात थी। बैठक में भारत की तरफ से पीएम मोदी के अलावा राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव एस जयशंकर समेत विदेश मंत्रालय के कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे। बैठक में आपसी व्यापार से जुड़े मुद्दों पर भी बातचीत हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.