राहुल गांधी- ‘यह अलोकतांत्रिक सोच है’

rahuवन रैंक वन पेंशन की मांग को लेकर जंतर मंतर पर पूर्व सैनिक राम किशन की खुदकुशी पर राजनीति शुरू हो गई है। राम किशन के परिजनों से राम मनोहर लोहिया अस्पताल जा रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को दिल्ली पुलिस को बाहर ही रोक लिया। वहीं, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया अपने विधायक कमाडो सुरेंद्र सिंह के साथ सैनिक के परिवार वालों से मिलने जा रहे थे तभी उन्हें हिरासत में ले लिया गया। हालांकि, बाद में उन्हें छोड़ दिया गया।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदियो को हिरासत में लेने पर केजरीवाल भड़क गए हैं। उन्होंने कहा कि अगर अपने राज्य में किसी की मौत पर उपमुख्यमंत्री परिवार को सांत्वना देने जाए तो क्या उसे गिरफ़्तार किया जाएगा? गुंडागर्दी की हद है मोदी जी। यहां पर बता दें कि राम किशन के बेटे के साथ आप विधायक कमांडो सुरेंद्र को भी हिरासत में लिया गया है।

परिवार से बात करने पर मुझे हिरासत में लिया जाता है। हद है! मनीष सिसोदिया

एक पूर्व सैनिक केंद्र सरकार की हरकतों की वजह से आत्महत्या कर लेता है और उसके परिवार से बात करने पर मुझे हिरासत में लिया जाता है। हद है! सैनिकों की बहादुरी पर सीना ठोककर अपनी वाहवाही में लगे प्रधानमंत्री जी! आज एक पूर्व सैनिक ने आत्महत्या कर ली है। इसकी जवाबदेही किसकी है?

सैनिकों की बहादुरी पर अपनी पीठ ठोकते हो और आपकी वजह से आत्महत्या करने वाले सैनिक के परिवार से मिलने पर हमें गिरफ्तार कर लेते हो? देशभक्ति?

दिल्ली का उपमुख्यमंत्री अगर शोकग्रस्त सैनिक परिवार से मिले तो आपकी कानून व्यवस्था का खतरे में पड़ जाती है? ये कौन सी व्यवस्था हैं मोदी जी? मुझे बताया गया है कि धारा 65 के तहत पुलिस बिना कोई कागज़ बनाए 23 घंटे तक हिरासत में रख सकती है।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि आत्महत्या करने वाले पूर्व सैनिक के परिवार से मिलने गया था, धरना देने नहीं। इसमें कौन सा अपराध है?

RML अस्पताल जाने से रोकने पर राहुल गांधी बोले-‘यह अलोकतांत्रिक सोच है’

वहीं, राहुल गांधी ने पुलिस के इस बर्ताव को अलोकतांत्रिक बताया है। उन्होंने इशारों-इशारों में केंद्र में सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि ये कैसा हिंदुस्तान बनाया जा रहा है।

अलोकतांत्रिक तरीके से काम कर रही केंद्र सरकारः शर्मिष्ठा मुखर्जी

राहुल गांधी को आरएमएल अस्पताल में जाने से रोकने का दिल्ली प्रदेश कांग्रेस ने विरोध किया। मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा केंद्र सरकार अलोकतांत्रिक तरीके से काम कर रही है। देश के जवान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं और सरकार उनके परिवार को विपक्ष के नेताओं से मिलने नहीं दे रही है।

यहां पर याद दिला दें कि पूर्व सैनिक ने रामकिशन ग्रेवाल ने कल खुदकुशी कर ली थी। परिजनों के मुताबिक वे रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर से मिलने जा रहे थे, तभी रास्ते में जहर खा लिया। रामकिशन कुछ साथियों के साथ पिछले सोमवार को जंतर-मंतर पर विरोध कर रहे थे।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार वन रैंक वन पेंशन लागू कर चुकी है, लेकिन कुछ सैनिक इसमें खामियां गिना रहे हैं और विरोध कर रहे हैं। उधर राम किशन के बेटे ने बताया कि उनके पिता ने उन्हें फोन किया और कहा कि वह सुसाइड करने जा रहे हैं, क्योंकि सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं कर रही है।

बेटे के मुताबिक, जहर खाने के बात पिता रामकिशन को राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि रामकिशन ने सुसाइड नोट भी लिखा था। इसके आधार पर पुलिस तफ्तीश में जुट गई है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वे रामकिशन ग्रेवाल के परिवार से मिलने हरियाणा जाएंगे। रामकिशन की मौत पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। केजरीवाल ने ट्वीट किया-‘मोदी के राज में किसान और जवान दोनों आत्महत्या कर रहे हैं। बहुत दुखद, सिपाही सरहद पर बाहरी दुश्मन से लड़ रहे हैं और देश में अपने अधिकारों के लिए, सारे देश को उनके अधिकारों के लिए खड़े हो जाना चाहिए।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.