नयी तकनीक आ गयी- अब वजन घटाने के लिए सर्जरी की जरूरत नहीं..

fatमोटापे से परेशान लोग मोटापा कम करने के लिए अधिक डाइटिग करना, जिम जाना, घंटो वर्कआउट करना जैसे जानें कितने काम करते है. कुछ लोग तो दवाइयों और सर्जरी का सहारा लेने से भी नहीं चुकते ऐसे लोगों के लिए अमेरिकी रेडियोलॉजिस्ट ने एक नए इमेड गाइडेड ट्रीटमेंट विकसित किया है, जिसे बैरियाटिक अर्टेरियल इमोबोलिजेशन (बीएई) कहा जाता है। यह पेट के एक हिस्से में खून की आवाजाही रोक देता है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है.

शोध से पता चला है कि सर्जिकल गैस्ट्रिक बायपास प्रक्रिया (बैरियाटिक सर्जरी) की तुलना में इसमें कोई चीड़फाड़ नहीं की जाती है और मरीज जल्दी सामान्य भी होता है. इस शोध के दौरान सभी मरीजों में वजन की कमी और भूख में कमी देखी गई. एक महीने बाद उनके वजन में 5.9 फीसदी की कमी देखी गई. छह महीने बाद उनका बजन 13.3 फीसदी घट गया.

इस शोध को वेंकुवर, कनाडा में चल रहे सालाना वैज्ञानिक बैठक सोसाइटी ऑफ इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी 2016 में प्रस्तुत किया गया. भारत की नागरिकता ले चुके अदनान अपने गानों के लिए तो दुनियाभर में नाम कमा ही चुके हैं लेकिन अपने घटे हुए वजन को लेकर भी वह चर्चा में रहे. शायद आपको यकीन न हो लेकिन पहले अदनान 230 किलो के थे. जी हां, सही पढ़ा आपने. 230 किलो! लेकिन अब 160 किलो वजन घटाकर एक क्यूट पर्सनैलिटी से स्मार्ट बन चुके अदनान का यूं वजन घटाना किसी अजूबे से कम नहीं.

अदनान ने उन दिनों की तकलीफ का जिक्र करते हुए बताया कि लोग भले ही मुझे क्यूट कहते थे लेकिन यह मुझे ही पता था कि मैं किन तकलीफों से गुजर रहा हूं. मैं सही से सो नहीं पाता था. एक समय तो ऐसा आया जब मैंने काफी समय कुर्सी पर सोकर नींद पूरी की.वह बताते हैं कि उनके ड्राइवरों को विशेष ट्रेनिंग दी गई थी कि जब मैं गाड़ी में बैठता था तो वे मेरे पैरों को ऊपर उठाकर रख देते थे.

हो सकता है आप सोच रहे हों कि अदनान ने कोई सर्जरी कराई हो लेकिन आज तक के एजेंडा मंच पर अदनान ने कहा कि उन्होंने कोई सर्जरी नहीं कराई है. अदनान ने बताया कि हर किसी को एक बार अपने न्यूट्रिशनिस्ट से जरूर मिलना चाहिए. अदनान ने बताया कि वजन कम करने के लिए उन्होंने सिर्फ और सिर्फ परहेज किया. एल्कोहल, ऑयल और शुगर छोड़कर उन्होंने इतना वजन घटाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *