इस्लामिक समिट में नवाज शरीफ को नहीं दिया गया मौका, ट्रम्प ने भारत को आतंकवाद से प्रभावित देश कहा

Arab islamic american summitअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हाल ही में सऊदी अरब के दौरे पर थे, इस दौरान इस्लामिक समिट के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी वहां रहे. लेकिन कार्यक्रम के दौरान हुई नवाज शरीफ की अनदेखी से उनके देश पाकिस्तान में इसे ‘बेइज्जती’ करार दिया जा रहा है, और शरीफ की काफी आलोचना भी हो रही है. पाकिस्तान की स्थानीय मीडिया में कहा जा रहा है, कि इस्लामिक समिट के दौरान नवाज शरीफ अलग-थलग पड़ गये, आतंकवाद के मुद्दे पर उन्हें अपनी राय नहीं रखने दी गई.

दरअसल, इस्लामिक स्टेट समिट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत कई अन्य नेताओं ने अपने विचार रखे. इसके लिए नवाज शरीफ ने भी तैयारी की थी, कहा जा रहा है कि शरीफ ने अपनी फ्लाइट में यात्रा के दौरान करीब ढाई घंटे से मेहनत कर स्पीच तैयार की थी. फिर भी नवाज को वहां बोलने का अवसर नहीं मिल सका. वहीं ट्रंप ने नवाज शरीफ के सामने ही भारत को आतंकवाद से प्रभावित देश करार दिया.

सऊदी अरब की विदेश यात्रा पर गए अमेरिकी राष्ट्रपति ने रविवार को रियाद में 50 इस्लामिक देशों के नेताओं को संबोधित किया. डोनल्ड ट्रंप ने अपने संबोधन में मुस्लिम देशों के नेताओं से आतंकवाद खत्म करने की अपील की. उन्होंने कहा कि अपनी पवित्र धरती पर आतंकवाद को न पनपने दें. सऊदी दौरे पर डोनाल्ड ट्रंप के सुर भी बदलते नजर आए. आतंकवाद को लेकर ट्रंप अक्सर ‘रैडिकल इस्लामिक आंतकवाद’ शब्द का इस्तेमाल करते रहे हैं. ट्रंप ने कहा कि आतंकवाद को लेकर पश्चिम और इस्लाम के बीच लड़ाई नहीं है. बल्कि यह अच्छाई और बुराई के बीच की लड़ाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.