मुनाफा 2.4% बढ़ा, एनपीए में बढ़ोतरी :आईसीआईसीआई बैंक

iciciवित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का मुनाफा 2.4 फीसदी बढ़कर 3102 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का मुनाफा 3030 करोड़ रुपये रहा था।

वित्त वर्ष 2017 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की ब्याज आय सपाट होकर 5253.3 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2016 की दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की ब्याज आय 5251.5 करोड़ रुपये रही थी।

बेफिक्रे का ट्रेलर रिलीज हो गया – रणवीर और वाणी ने मचाया धमाल

तिमाही दर तिमाही आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का ग्रॉस एनपीए 5.87 फीसदी से बढ़कर 6.82 फीसदी रहा है। तिमाही आधार पर जुलाई-सितंबर तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का नेट एनपीए 3.35 फीसदी से बढ़कर 3.57 फीसदी रहा है।

रुपये में आईसीआईसीआई बैंक के एनपीए पर गौर करें तो तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में ग्रॉस एनपीए 27193 करोड़ रुपये से बढ़कर 32179 करोड़ रुपये रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का नेट एनपीए 15041 करोड़ रुपये से बढ़कर 16215 करोड़ रुपये रहा है।

मोबाइल नम्बर होंगे अब 11 डिजिट के

साल दर साल आधार पर दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की अन्य आय 3007 करोड़ रुपये से बढ़कर 9119 करोड़ रुपये रही है। अन्य आय में आईसीआईसीआई प्रू के आईपीओ से मिली 5682 करोड़ रुपये की रकम भी शामिल है।

तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की प्रोविजनिंग 2514 करोड़ रुपये से बढ़कर 7083 करोड़ रुपये रही है, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक की प्रोविजनिंग 942 करोड़ रुपये रही थी।

तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का रीस्ट्रक्चर्ड बुक 7214 करोड़ रुपये से घटकर 6336 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक का रिटेल पोर्टफोलियो 21 फीसदी बढ़ा है। दूसरी तिमाही में आईसीआईसीआई बैंक के घरेलू एडवांसेज में 16 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

कमजोर नतीजों के बाद आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ, चंदा कोचर ने कहा कि बैंक कर्ज का दबाव झेल रही कंपनियों में एक्सपोजर घटाना चाहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.