गिरिराज सिंह : नोटबंदी के बाद अब लागू हो नसबंदी

giriकेन्द्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि नोटबंदी के बाद देश में नसबंदी लागू किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश में इस कानून की सख्त जरूरत है। रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र नवादा में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि देश के विकास की रफ्तार और सामाजिक स्थिरता के लिए देश में नसबंदी और जनसंख्या स्थिरता कानून की सख्त जरूरत है। उन्होंने कहा कि देश की बढ़ती जनसंख्या विकास में बाधक है।

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम राज्य मंत्री ने कहा, “पूरी दुनिया की 17 फीसदी आबादी अकेले भारत में है और हर साल आस्ट्रेलिया की आबादी के बराबर यहां जनसंख्या वृद्धि होता है, जबकि पूरी दुनिया का केवल 2.5 फीसदी जमीन ही भारत के पास है। भारत के पास जल संसाधन भी केवल 4.2 फीसदी है। ऐसी स्थिति में जनसंख्या वृद्धि हमारे विकास की रफ्तार में एक बड़ा रोड़ा है। हमें इस समस्या से निपटने के लिए पॉपुलेशन कंट्रोल एक्ट की जरूरत है।”

गिरिराज सिंह बिहार भाजपा के ऐसे दूसरे नेता हैं जिन्होंने जनसंख्या नियंत्रण के लिए सख्त कानून की वकालत की हो। इससे पहले पूर्व केन्द्रीय मंत्री संजय पासवान भी ऐसी बात कह चुके हैं। संजय पासवान भी नवादा से भाजपा के सांसद और केन्द्र में मंत्री रह चुके हैं। हालांकि, गिरिराज सिंह ने कहा कि उनके बयान का मकसद किसी समुदाय विशेष से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वो बहुत पहले से इसकी वकालत करते रहे हैं। इसके साथ ही सिंह ने कहा, “बांगलादेश और मलेशिया में भी जनसंख्या स्थिरता के लिए कानून है। इसलिए अगर भारत में ये लागू होता है तो इसमें कुछ भी गड़बड़ नहीं है।”

अक्सर अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर रहने वाले गिरिराज सिंह ने अक्टूबर में उत्तर प्रदेश (यूपी) के सहारनपुर जिले में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था, “देश की जनता राम मंदिर मांग रही है लेकिन राम मंदिर कैसे बनेगा जब देश में राम भक्त ही नहीं रहेंगे। हिंदू समाज को अपनी आबादी बढ़ाने की जरूरत है। देश के आठ राज्यों में हिंदुओं की जनसंख्या लगातार घट रही है।” सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय के केंद्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह ने आगे कहा, “बंटवारे के समय पाकिस्तान में 22 प्रतिशत हिंदू थे लेकिन आज वो एक प्रतिशत रह गए हैं। जबकि उस समय भारत में 90 प्रतिशत हिंदू थे और 10 प्रतिशत मुस्लिम थे और अब मुसलमान 24 प्रतिशत हो गए हैं और हिंदू घटकर 76 प्रतिशत रह गए हैं।” हालांकि साल 2011 की जनगणना का अनुसार भारत की जनसंख्या 121 करोड़ से अधिक है। भारत की कुल आबादी में 79.80% हिंदू और 14.23% हैं। 2014 के लोकसभा चुनावों में सिंह नरेन्द्र मोदी का विरोध करने वालों को पाकिस्तान भेजने की भी बात कह चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.