Interview : अभिनेत्री पारुल यादव से ख़ास बातचीत

parul yadavकलर्स के सीरिअल भाग्यविधाता से हिन्दी दर्शकों के बीच पोपुलर हुई अभिनेत्री पारुल यादव इन दिनों दक्षिण भारत की सफलताल एक्ट्रेस बन चुकी हैं. अब उन्हें कन्नड़ अभिनेत्री के तौर पर जाना जाता है. कन्नड़ अभिनेत्री पारुल यादव किलिंग वीरप्पन की सफलता के बाद से तो एकदम डिमांड में आ गयी हैं. कन्नड़ सुपरस्टार सुदीप के साथ बच्चन फिल्म और शिवराज कुमार के साथ किलिंग वीरप्पन ने उन्हें  साऊथ सिनेमा की टॉप लीडिंग एक्ट्रेस बना दिया है. इतना ही नहीं अब उन्हें बॉलीवुड से भी काम मिलने की खबर है. रामगोपाल वर्मा की कई भाषाओं में रिलीज हुई किलिंग वीरप्पन ने उन्हें एक तरह से लाईमलाईट में अ दिया है.

Also read : दिल्ली में आई कहानी 2,नोटबंदी से नहीं डरती विद्या बालन

कन्नड़ फिल्म गोविंदाय नमः के बहुचर्चित गीत प्यारगे आग्बुतते को शायद ही कोई ऐसा होगा जिसने नहीं सुना हो. जितना हिट यह गाना हुआ उससे भी ज्यादा चर्चा हुई इस गीत पर थिरकने वाली खूबसूरत अदाकारा पारुल यादव के जलवों की. हो भी क्यों न. आखिर इस फिल्म में उन का अभिनय और डांस गजब का जो था. सच तो यह है कि इस फिल्म और गीत ने पारुल को कन्नड़ फिल्म प्रेमियों को उन का दीवाना बना दिया. पारुल की बढ़ती फैन फौलोइंग का ही नतीजा है उन्हें दर्षक अब और बेहतरीन फिल्मों में देखने के लिए खासे उत्साहित हैं.

हालांकि पारुल को अपनी सफलता और लोकप्रियता पर अभी भी यकीन नहीं हो पा रहा है. लेकिन वास्तविकता यही है कि उन्हें कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री से जबरदस्त रिस्पौंस मिल रहा है. जैसा कि वह कहती हैं कि फिल्मों में अपनी किस्मत आजमाने के लिए सैकड़ों लडकियां रोज अभिनय के मैदान में उतरती हैं और गायब भी हो जाती हैं पर उन में बहुत कम चेहरे ऐसे होते हैं जिन्हें अपनी पहली ही फिल्म से इतनी सफलता और दर्षकों का प्यार हासिल होता है. आज अगर मेरा नाम उन सफल लोगों में शुमार हो रहा है तो यह मेरे लिए खुशकिस्मती की बात है.

पारुल को लक यानी किस्मत पर काफी भरोसा है तभी तो वह मानती हैं कि  किस्मत अगर टैलेंट और खूबसूरती के साथ मिल जाए तो सफलता आपके कदम चूमे बिना नहीं रह सकती. किस्मत, टैलेंट और खूबसूरती जब एक दूसरे से हाथ मिलाकर आपके साथ चलती हैं तो आपको फिल्मी दुनिया में अपना सिक्का जमाने से कोई नहीं रोक सकता. इस मामले वह खुद को काफी लकी मानती हैं.

 

parul-yadav-2गौरतलब है कि मुंबई में जन्मी और वहीं पढ़ीलिखी पारुल ने फिल्म गोविंदायः नमः से कन्नड़ फिल्मी दुनिया में डेब्यू किया है. इस से पहले वह फैशन शोज और टीवी रियल्टी शो में काम कर रही थीं. इन्ही शोज की वजह से उन का फिल्मी दुनिया में आगमन इतना आसान हो पाया है. कन्नड़ के अलावा अब पारुल मलयालम फिल्म इंडस्ट्री में फिल्म कृथ्यम और ब्लैक डालिया के जरिए केरल में खासा नाम कमा रही हैं.

Also read : आमिर खान फिल्म को हिट करवाने के लिए करते हैं ये टोटका?

कन्नड़ फिल्मों में मिली पहली सफलता के बाद उन के पास ढेर सारी फिल्मों के औफर्स की लाइन भले ही लग गई हो पर अभी वह फिल्में साइन करने में कोई जल्दबाजी नहीं दिखा रही हैं. उलटा वह उन्हीं फिल्मों में काम कर रही हैं जिन में उन का किरदार खास हो. इसके लिए वह अपने रोल को पढ़कर ही फिल्में साइन कर रही हैं. इस कारण कुछ लोग उन्हें चूजी भी कह सकते हैं. पर वह इस की परवाह नहीं करती. शायद इसीलिए पारुल ने फिल्म नंदिशा के बाद सिर्फ कन्नड़ फिल्म सुपरस्टार सुदीप के साथ फिल्म बच्चन साइन की जो की अब बहुत बड़ी हिट हो चुकी है. अब जब यह फिल्म हिट हो चुकी है तो उनकी खुशी का अंदाजा लगाना मुमकिन है. पारुल के मुताबिक इस फिल्म में कन्न्ड़ फिल्म कलाकार सुदीप के होने कि वजह से इस की औडियंस बढ़ गई है, आखिर वे सुपरस्टार जो हैं.

बहुत कम लोग जानते हैं कि पारुल की इंटीरियर डिजाइनिंग के अपनी कंपनी भी है. लेकिन फिल्म और बिजनेस की बात की जाए तो फिल्में उन की पहली प्राथमिकता है. बड़े ही शरारती अंदाज में वे कहती है कि फिल्में उन का पहला प्यार हैं. और जब उन से उन के दूसरे प्यार के बारे में जानना चाहा तो उन्होंने मुस्कराहट के साथ जवाब दिया. कोई नहीं.

आत्मविश्वास से भरी पारुल कहती हैं, कि इन दिनों उन के पास प्यार के चक्कर में पड़ने का वक्त ही नही है. वह फिलहाल सिर्फ कैरिअर पर ध्यान दे रही हैं बाकी सब उसके बाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.