अंबेडकर का दिया संविधान आज खतरे में है : राहुल गांधी

Rahul Gandhiदेश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस आज अपना 133वां स्थापना दिवस मना रही है. राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद ये कांग्रेस का पहला स्थापना दिवस समारोह है. इस मौके पर आज देशभर में कांग्रेस की ओर से कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं. गुरुवार सुबह कांंग्रेस अध्यक्ष राहुल ने मुख्यालय पहुंच झंडा फहराया.

स्थापना दिवस कार्यक्रम में राहुल ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा सच का साथ दिया है, आज के समय में बाबा साहेब अंबेडकर का दिया हुआ संविधान खतरे में है, उस संविधान पर हमला हो रहा है. ये देखना दुखद है. लेकिन हमारा कर्तव्य है कि हम संविधान की रक्षा करें. राहुल ने बीजेपी पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीजेपी लगातार झूठ के साथ आगे बढ़ रही है, बीजेपी की ओर से कांग्रेस के खिलाफ हमले हुए हैं. उन्होंने कहा कि हम भले ही हार जाएं, लेकिन सच का साथ नहीं छोड़ेंगे.

शुरुआत से लेकर अभी तक कांग्रेस में कई बदलाव होते हुए आए हैं. अब राहुल के अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस पार्टी में एक बार फिर बड़े बदलावों की संभावना है. सोनिया गांधी रिटायरमेंट के संकेत दे चुकी हैं, मुमकिन है कि पार्टी में युवा चेहरों को तरजीह अधिक मिलेगी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी नई दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय पर चल रहे कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

कांग्रेस का इतिहास

कांग्रेस की स्थापना ब्रिटिश राज में 1885 में हुई थी. इसके संस्थापकों में ए ओ ह्यूम, दादा भाई नौरोजी और दिनशा वाचा शामिल थे. 1947 में आजादी के बाद, कांग्रेस भारत की प्रमुख राजनीतिक पार्टी बन गई. आजादी से लेकर 2016 तक, 16 आम चुनावों में से, कांग्रेस ने 6 में को पूर्ण बहुमत से जीता हैं और 4 में सत्तारूढ़ गठबंधन का नेतृत्व किया. भारत में, कांग्रेस के सात प्रधानमंत्री रह चुके हैं. पहले जवाहरलाल नेहरू थे और हाल ही में मनमोहन सिंह थे. 2014 के आम चुनाव में, कांग्रेस ने आजादी से अब तक का सबसे खराब आम चुनावी प्रदर्शन किया और 543 सदस्यीय लोकसभा में केवल 44 सीट जीतीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.