- Smart Times - http://www.smarttimes.in -

आज यूपी में SP के रजत जयंती समारोह के साथ BJP की परिवर्तन यात्रा

BJP-rally [1]भाजपा ने प्रदेश में आयोजित चार परिवर्तन यात्राओं में से प्रथम परिवर्तन यात्रा का शुभारम्भ शनिवार को सहारनपुर से होगा। इस प्रथम यात्रा के शुभारम्भ के मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी ओम प्रकाश माथुर, केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र, संजीव बालियान, राष्ट्रीय मंत्री व परिवर्तन यात्रा के संयोजक महेन्द्र सिंह और सांसद हुकुम सिंह सरीखे बड़े नेता मौजूद रहेंगे। शाह यात्रा को हरी झंडी दिखाएंगे।

इसके साथ ही वहां एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। पहली परिवर्तन यात्रा की तैयारियों को लेकर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य सहारनपुर पहुंच चुके हैं। प्रदेश महामंत्री स्वतंत्र देव सिंह, क्षेत्रीय अध्यक्ष एमएलसी भूपेन्द्र सिंह तथा क्षेत्रीय संगठन मंत्री चन्द्रशेखर पहले से ही परिवर्तन यात्रा की तैयारियों में जुटे हुए हैं। परिवर्तन यात्रा के उद्घाटन समारोह को लेकर पूरे सहारनपुर को केसरिया रंग से सरोबार कर दिया गया है। पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने होर्डिंग, बैनर और झण्डों से पूरे शहर को पाट दिया है।

वहां के लोगों में भी परिवर्तन यात्रा को लेकर गजब का उत्साह है। हाइड्रोलिक सिस्टम से युक्त परिवर्तन यात्रा रथ में ‘न गुण्डाराज न भ्रष्टाचार अबकी बार भाजपा सरकार’ ‘ योजनाओं का नहीं मिलता लाभ-किसान दुखी और बर्बाद’ और ‘भर्ती बन गया कारोबार, लाखों युवा बेराजगार’ जैसे स्लोगन लिखे हुए हैं।

6 नवम्बर से झांसी से दूसरी परिवर्तन यात्रा

इसी तरह दूसरी परिवर्तन यात्रा 6 नवम्बर से झांसी से शुरू होगी। इस यात्रा के शुभारम्भ समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय मंत्री व झांसी की सांसद उमाभारती, कलराज मिश्र, ओम प्रकाश माथुर, प्रदेश प्रभारी ओम प्रकाश माथुर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा.दिनेश शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य तथा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो.एस.पी.सिंह बघेल भी मौजूद रहेंगे।

यह परिवर्तन 6 से लेकर 8 नवम्बर तक बुन्देलखण्ड क्षेत्र में घूमेगी। सोनभद्र और बलिया से भी निकलेगी परिवर्तन यात्रातीसरी परिवर्तन यात्रा 8 नवम्बर को सोनभद्र तथा आखिरी व चौथी परिवर्तन 9 नवम्बर को बलिया से शुरू होगी। ये सभी परिवर्तन यात्राएं प्रदेश में 17 किलोमीटर का मार्ग तय करेंगी। परिवर्तन यात्राओं से बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं को जोड़ा जाएगा। इसके साथ ही 10 हजार से अधिक कार्यकर्ता परिवर्तन सारथी के रूप में गांवों में चौपाल लगाने का काम करेंगे।